गुजरात चुनाव: ओखी तूफान के कारण अमित शाह की तीन चुनावी रैलियां रद्द

खोज न्यूज़ टुडे/नई दिल्ली :- ओखी तूफ़ान की आशंका से बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की गुजरात में प्रस्तावित रैली रोक दी गई है. बीजेपी अध्यक्ष मंगलवार को राजुला, महुवा और शिहोर में रैली करने वाले थे. बताया जा रहा है कि ओखी तूफान के कारण गुजरात में तेज़ बारिश और हवाएं चल रही हैं और इस दौरान हेलिकॉप्टर उतरना आसान नहीं होगा. इसी वजह से अमित शाह की मंगलवार को होने वाली रैली रद्द कर दी गई है.

बता दें कि ओखी तूफ़ान ने इससे पहले दक्षिण भारत में खूब तबाही मचाई है. इतना ही नहीं अब इसका असर मुंबई और महाराष्ट्र के दूसरे तटीय इलाक़ों में भी दिख रहा है. मुंबई के सभी स्कूलों में एहतियातन छुट्टी कर दी गई है. मौसम विभाग मे आशंका ज़ाहिर की है कि ओखी तूफान मंगलवार शाम मुंबई और उसके आसपास के इलाकों से गुजरेगा. ये तूफ़ान गुजरात के खंभात की खाड़ी की ओर बढ़ रहा है और इसके 6 दिसंबर को तट से टकराने की आशंका है.

6 दिसंबर तक रहेगा असर- कोस्ट गार्ड अधिकारियों के अनुसार, ओखी चक्रवात सूरत की ओर 45 नॉटिकल माइल (85 किलोमीटर) की रफ्तार से बढ़ रहा है. 26 नवंबर को श्रीलंका के पास से ओखी चक्रवात उठा था जो धीरे-धीरे केरल पहुंच गया. चक्रवात से समुद्र में मछली पकड़ने गए सैकड़ों मछुआरे लापता हो गए, जिनकी तलाश जारी है. महाराष्ट्र के कुछ भागों में चक्रवात का असर देखने को मिला है.

28 लोगों की मौत- कोस्ट गार्ड ने चक्रवात प्रभावित इलाकों में जारी बचाव अभियान के बारे में ब्योरा साझा किया है. कोस्ट गार्ड इंस्पेक्टर जनरल कमांडेंट कृपा नॉटियाल ने बताया कि यह सुनामी के बाद दूसरा सबसे बड़ा बचाव अभियान है. कोस्ट गार्ड के 1500 से अधिक जवान तूफान प्रभावित इलाकों में बचाव अभियान को अंजाम दे रहे हैं. नॉटियाल ने बताया कि पिछले 5 दिन में कोस्ट गार्ड जवानों ने 180 लोगों की जान बचाई है.

सभी जगह अलर्ट जारी कर सबको समुद्र तट से दूर रहने की सख्त हिदायत दी गई है. बचाव अभियान के लिए 13 शिप और 2 डोर्नियर और 3 एयरक्राफ्ट का उपयोग हा रहा है. सूरत की ऑयल कंपनियों को अलर्ट करते हुए कहा गया है कि जरूरत न हो, तो काम बंद रखा जाए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *