Ind vs SL टेस्ट मैच: दिनेश चांडीमल का अर्धशतक, लंच तक श्रीलंका 192 रन पर 3 विकेट

खोज न्यूज़ टुडे/नई दिल्ली :- दिल्ली के फिरोजशाह कोटला मैदान पर भारत और श्रीलंका के बीच तीसरे टेस्ट मैच का आज तीसरा दिन है. इस मैच में भारतीय कप्तान विराट कोहली के छठे दोहरे शतक की मदद से भारत ने पहली पारी में 536 रन बनाए थे.

पहली पारी के विशाल टारगेट का पीछा करने उतरी श्रीलंका की टीम ने 3 विकेट खोकर 191 रन बना लिए हैं. दूसरी पारी में श्रीलंका की टीम की शुरूआत खराब रही. दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक उसने 44.3 ओवरों में तीन विकेट के नुकसान पर 131 रन बनाया था.

दिनेश चांडीमल का अर्धशतक, लंच तक श्रीलंका 192 रन पर 3 विकेट

71 ओवर का खेल खत्म, श्रीलंका का स्कोर 192 रन 3 विकेट के नुकसान पर.

दिनेश चांडीमल का अर्धशतक, श्रीलंका के 3 विकेट गिरे

एंजेलो मैथ्यूज और दिनेश चांडीमल नाबाद हैं. मैथ्यूज 81 रन बनाकर खेल रहे हैं तो वहीं चांडीमल अर्धशतक के नजदीक है. वह 46 रन बनाकर खेल रहे हैं.

62 ओवर क बाद श्रीलंका का स्कोर 173 रन 3 विकेट के नुकसान पर. टीम इंडिया की पहली पारी से अभी भी श्रीलंका 362 रन पीछे है.

49 ओवर के बाद श्रीलंका का स्कोर 160 रन तीन विकेट के नुकसान पर.

श्रीलंका के 150 रन पूरे हुए. तीन विकेट गिरे हैं. श्रीलंका भारत के स्कोर से 384 रन पीछे.

एंजेलो मैथ्यूज और दिनेश चांडीमल क्रीज पर मौजूद. मैथ्यूज 67 रन पर और चांडीमल 32 रन बनाकर खेल रहे हैं.

49 ओवर का खेल खत्म, श्रीलंका बारत की पहली पारी के स्कोर से 395 रन पीछे

तीसरे दिन का खेल शुरू, श्रीलंका का स्कोर 140 रन तीन विकेट के नुकसान पर

अपनी पहली पारी खेलने उतरी श्रीलंका को पहली ही गेंद पर मोहम्मद शमी ने झटका दिया. उन्होंने दिमुथ करुणारत्ने (0) को विकेट के पीछे रिद्धिमान साहा के हाथों कैच कराया

ईशांत ने धनंजय डी सिल्वा (1) को 14 के कुल स्कोर पर पगाबाधा आउट कर श्रीलंका को दूसरा झटका दिया. चोटिल बल्लेबाज सादिरा समाराविक्रमा की जगह पारी की शुरूआत करने आए दिलरुवान परेरा ने मैथ्यूज के साथ तीसरे विकेट के लिए 61 रनों की साझेदारी की.

परेरा हालांकि अपनी अच्छी शुरूआत को बड़ी पारी में बदल नहीं सके. वह जडेजा की गेंद पर नॉट आउट करार दे दिए गए थे, लेकिन कोहली ने रिवयू लिया और परेरा को लौटना पड़ा.

परेरा को शमी की गेंद पर धवन ने जीवनदान भी दिया था. वहीं मैथ्यूज का कैच कोहली ने ईशांत की गेंद पर छोड़ा था. अगर यह दोनों कैच लपक लिए जाते तो मेहमान टीम और परेशानी में आ सकती थी.

इसके बाद चंडीमल और मैथ्यूज ने श्रीलंकाई पारी को दिन का खेल खत्म होने तक संभाल लिया. मैथ्यूज ने 118 गेंदों का सामना करते हुए आठ चौके और दो छक्का लगाए हैं.

भारत की पहली पारी घोषित होने से पहले मैदान पर कई नाटकीय मोड़ आए. दिन के दूसरे सत्र में पांच से ज्यादा श्रीलंकाई खिलाड़ी प्रदूषण के कारण मैदान पर मास्क पहन कर उतरे.

दूसरे सत्र में 123वें ओवर में भारत जब पांच विकेट खोकर 509 रनों पर था तभी श्रीलंकाई गेंदबाज लाहिरू गमागे को सांस लेने में परेशानी हुई और खेल रोका गया. इसी बीच श्रीलंकाई खिलाड़ियों ने खराब वातावरण की शिकायत मैदानी अंपायरों से की, जिसके कारण तकरीबन 15 मिनट का खेल रुका.

मैच दोबारा शुरू हुआ और पहली ही गेंद पर रविंचद्रन अश्विन (4) का विकेट गिरा. गमागे इसके बाद मैदान से बाहर चले गए. इसी बीच कप्तान कोहली भी अपने टेस्ट करियर के सर्वश्रेष्ठ स्कोर 243 रनों पर लक्षण संदकाना की गेंद पगबाधा करार दे दिए गए. इससे पहले उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 235 रन था जो उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ पिछले साल मुंबई में बनाया था.

कोहली के जाने के बाद एक बार फिर खेल रुका. 127वें ओवर में श्रीलंका के टीम मैनेजर असंका गुरुसिंहा मैदानी अंपायरों से कुछ शिकायत करने लगे. उनके जाने के बाद भारतीय टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने मैदान पर कदम रखा और मैदानी अंपायरों से बात की.

पांच मिनट तक खेल रुकने के बाद मैच एक बार फिर शुरू हुआ, लेकिन पांच गेंद बाद श्रीलंका के कप्तान दिनेश चंडीमल ने 10 खिलाड़ी होने के कारण मैच रोक दिया और इसी बीच श्रीलंका टीम के कोच निक पोथास मैदान पर आकर अंपायरों से बात करने लगे. इसी बीच भारतीय ड्रेसिंग रूम से कोहली ने परेशान होकर पारी घोषित कर दी.

रिद्धिमान साहा और रवींद्र जडेजा क्रमश: नौ और पांच रनों पर नाबाद रहे. मैदान से जाते वक्त स्टेडियम में मौजूद दर्शकों ने श्रीलंकाई टीम की हूटिंग की और लूजर कहकर उन्हें हूट किया.

इससे पहले अपने दूसरे दिन के स्कोर चार विकेट के नुकसान पर 371 रनों से आगे खेलने उतरी भारत को कप्तान कोहली और रोहित शर्मा (65) ने शानदार शुरूआत दी और बड़ी आसानी से लगातार रन जोड़ते रहे. इसी बीच कोहली ने अपने करियर का छठा दोहरा शतक पूरा किया.

वह टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा दोहरे शतक लगाने वाले कप्तान बने गए है. उन्होंने इस मामले में वेस्टइंडीज के ब्रायन लारा को पछाड़ा. लारा के कप्तान के तौर पर पांच दोहरे शतक हैं. कोहली ने अपने सभी छह दोहरे शतक कप्तान बनने के बाद बनाए हैं. कोहली ने अपनी पारी में 287 गेंदें खेलीं और 25 चौके लगाए.

रोहित भोजनकाल की आखिरी गेंद पर संदकान का शिकार बने. रोहित ने 107 गेंदों पर सात चौके और दो छक्के लगाए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *