हिंसा के लिए लोकतंत्र में कोई जगह नहीं: योगी आदित्यनाथ

खोज न्यूज़ टुडे/केरल :- आदित्यनाथ ने कहा ‘यह यात्रा केरल, पश्चिम बंगाल और त्रिपुरा में वामपंथी सरकार का आइना है. उन्हें राजनीतिक हत्या बिल्कुल बंद करनी चाहिए’

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जनरक्षा यात्रा में भाग लेने मंगलवार को केरल के कन्नूर पहुंचे. यहां उन्होंने बीजेपी और आरएसएस कार्यकर्ताओं की हत्या का विरोध किया.
योगी आदित्यनाथ ने कहा ‘यह यात्रा केरल, पश्चिम बंगाल और त्रिपुरा में वामपंथी सरकार का आइना है. उन्हें राजनीतिक हत्या बिल्कुल बंद करनी चाहिए:

केरल में बीजेपी-आरएसएस कार्यकर्ताओं की हत्या को लेकर बीजेपी केरल की लेफ्ट सरकार को घेरने में जुटी है. हत्या के विरोध में कन्नूर से बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने 15 दिन की जनरक्षा यात्रा की शुरुआत की है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कल पदयात्रा निकाली और केरल की लेफ्ट सरकार को ललकारा.

शेड्यूल-

 योगी आदित्यनाथ सुबह साढ़े 10 बजे केरल के कीचेरी से कन्नूर तक पदयात्रा निकालेंगे.शाम 5 बजे कन्नूर में जनसभा को भी संबोधित करेंगे. रात में मैंगलोर के योगेश्वर मठ में रुकेंगे.योगी आदित्यनाथ बीजेपी के हिंदूवादी विचारधारा के पोस्टरबॉय माने जाते हैं. ऐसे में उन्हें यूपी से सीधे केरल भेजने का मकसद ये है की बीजेपी हिंदू वोटों का ध्रुवीकरण चाहती है.

15 दिनों तक चलने वाली बीजेपी की जनरक्षा यात्रा में अगले कुछ दिनों में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, गिरिराज सिंह, धर्मेंद्र प्रधान, अनंत कुमार, राज्यवर्धन सिंह राठौर और वी के सिंह भी शामिल होंगे.

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के मुताबिक केरल में पिछले कुछ सालों में बीजेपी-आरएसएस कार्यकर्ताओं की हत्या के मामले बढ़े हैं. केरल में 120 से ज्यादा बीजेपी-आरएसएस कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है. जिसमें 84 अकेले कन्नूर जिले में हत्या हुई है.

मुख्यमंत्री पी विजयन के क्षेत्र में ही 14 आरएसएस-बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है. बीजेपी इन हत्याओं के लिए पर लेफ्ट सरकार के मुखिया पी विजयन को जिम्मेदार ठहरा रही है. केरल में अपने कार्यकर्ताओं की हत्या के विरोध में बीजेपी हर राज्य की राजधानी में भी पदयात्रा निकालेगी. केरल में बीजेपी की राजनीतिक पकड़ कमजोर है. ऐसे में बीजेपी अपने कार्यकर्ताओं की हत्याओं को मुद्दा बनाकर राजनीतिक जमीन मजबूत करना चाहती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *