रायन मर्डर केस: दो अधिकारी गिरफ्तार,स्कूल पर कसा शिकंजा

खोज न्यूज़ टुडे/नई दिल्ली :- रेयान इंटरनेशनल स्कूल में सात वर्षीय छात्र प्रद्युमन के मर्डर के बाद विवादों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. लोगों के बीच बढ़ते गुस्से और विरोध को देखते हुए राज्य सरकार ने सोमवार को रेयान स्कूल की सभी ब्रांचों को बंद रखने का आदेश दिया है.

हम आपको बता दें की प्रद्युमन की मौत के बाद से ही लोगों में काफ़ी गुस्सा देखा जा रहा है. लोगों का कहना है कि वो इस केस में चल रही प्रक्रिया से असंतुष्ट हैं. लोगों ने हत्या के विरोध में एक शराब दुकान को आग के हवाले कर दिया था.

प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर ने पुलिस जांच से असंतोष जाहिर किया है और कहा है कि सीबीआई जांच के लिए वो सुप्रीम कोर्ट में भी अर्जी देंगे. बच्चे के पिता वरुण ठाकुर ने रविवार को कहा कि हालांकि पुलिस अपनी ड्यूटी कर रही है लेकिन सरकार को इस मामले की जांच सीबीआई से कराने का आदेश देना चाहिए.

गौरतलब है कि बच्चे की हत्या के आरोपी बस कंडक्टर को उसके पिता ने निर्दोष बताया है. हत्या के आरोपी अशोक के पिता मीडिया के सामने आए और उन्होंने अपने बेटे को बेगुनाह बताया.

आरोपी के पिता ने कहा, ‘मेरा बेटा निर्दोष है. उसे स्कूल की तरफ से फंसाया जा रहा है.’ इस मामले में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने पुलिस अधिकारियों को सात दिनों के भीतर चार्जशीट दाखिल करने का निर्देश दिया है. मामले की गंभीरता को देखते हुए सीबीएसई ने भी स्कूल प्रशासन से 2 दिनों के भीतर रिपोर्ट देने का आदेश दिया है.

सरकार ने स्कूल के खिलाफ कसा शिकंजा

 

शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा ने भले ही सुबह मीडिया के सामने कह दिया कि स्कूल की मान्यता नहीं रद होगी पर सरकार स्कूल के खिलाफ शिकंजा कसने के लिए तैयार हो चुकी है। देर शाम सरकार ने उपायुक्त से जांच रिपोर्ट भी तलब कर ली।

डीसी की रिपोर्ट में स्कूल प्रबंधन की कई खामी बताई गई हैं। यही नही डीसी ने शिक्षा निदेशालय को लिखे पत्र में भी यह कहा है कि स्कूल में पूरे इंतजाम किए चलने देना ठीक नही है। बताते हैं कि डीसी के पत्र के बाद निदेशालय ने रेयान स्कूल प्रबंधन को नोटिस देने जा रहा है। एक अधिकारी ने बताया कि पंद्रह दिन के अंदर स्कूल प्रबंधन को जवाब देना होगा। स्कूल का संचालक सरकार खुद अपने स्तर पर करने के लिए भी तैयारी कर रही है।

छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की चाकू से गला रेत कर हत्या

बता दें कि भोंडसी स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल में शुक्रवार सुबह सात वर्षीय छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की चाकू से गला रेत हत्या कर दी गई थी। बच्चे का पिता उसे स्कूल के गेट पर सुबह सात बजकर पचास मिनट में गया। बीस मिनट बाद ही उसके पास फोन आया कि बच्चा बाथरूम में गिर गया है। पिता अस्पताल पहुंचा तो बच्चा मृत मिला था।

दूसरी कक्षा में पढऩे वाले मासूम का कत्ल चाकू से गला रेतकर बाथरूम में किया गया था। पुलिस ने देर रात नाटकीय अंदाज में स्कूल बस के हेल्पर अशोक को गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस की इस कार्रवाई पर बच्चे के माता-पिता ने सवाल उठाए थे।

दोनों सीबीआइ से जांच कराने की मांग कर रखी है। उनका कहना है कि बच्चे के साजिश के तहत मारा गया। हेल्पर को केवल मोहरा बनाया गया है। इस मांग को लेकर प्रदर्शन भी हो रहे हैं। मांग हो रही थी मामले में लीपापोती करने वाले स्कूल प्रबंधन के खिलाफ मामला दर्ज हो।

कोई भी पुलिस अधिकारी प्रबंधन का नाम लेने से बच रहा था। मगर जब दबाव बना तो पुलिस ने स्कूल संचालक और प्रबंधन के खिलाफ रविवार दोपहर मामला दर्ज कर लिया। थाना प्रभारी भोंडसी नरेंद्र खटाना ने बताया पहली एफआइआर के साथ नए आरोप पत्र को जोड़ा गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *