उसका बाजार में फेल हो गया क्षेत्रपंचायत तख्ता पलट

मनोज पाण्डेय,
खोज न्यूज़ टूडे,सवांददाता/उसका बाजार, सिद्धार्थनगर : सूबे में सत्ता परिवर्तन के साथ ही जनपद में क्षेत्र पंचायत प्रमुख को अविश्वास प्रस्ताव के जरिए हटाने की प्रक्रिया उसका बाजार में थमती नजर आ रही है। बुधवार को अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के लिए बुलाई गई बैठक कोरम पूरा होने के अभाव में स्थगित हो गई। राजमती देवी सपा के समर्थन से क्षेत्र पंचायत प्रमुख चुनी गई हैं।

सात जुलाई को क्षेत्र पंचायत सदस्य सुनीता पांडेय के नेतृत्व में 43 क्षेत्र पंचायत सदस्यों ने नोटरी शपथ पत्र देकर प्रमुख के खिलाफ अविश्वास जताया था। जिस पर जिलाधिकारी ने दो अगस्त को क्षेत्र पंचायत सदस्यों की बैठक बुलाने का निर्देश दिया था।

उप जिलाधिकारी सदर डॉ. महेंद्र कुमार की देखरेख में आयोजित बैठक में प्रशासन की तरफ से क्षेत्र पंचायत सदस्यों को पत्र भेजकर 11.00 बजे तक बैठक में उपस्थित होने के लिए कहा गया था परंतु निर्धारित समय तक बैठक में कोई सदस्य नहीं पहुंचा। उपजिलाधिकारी ने 10 मिनट का अतिरिक्त समय देते हुए सदस्यों का इंतजार किया फिर भी कोई नहीं पहुंचा। इसके कुछ देर बाद 22 क्षेत्र पंचायत सदस्यों का दल खंड विकास अधिकारी कार्यालय के गेट पर पहुंचा और अंदर जाने की जिद करने लगा परंतु सुरक्षाबलों ने समय सीमा खत्म हो जाने का हवाला देते हुए अंदर घुसने नहीं दिया।

उपजिलाधिकारी ने 54 सदस्यों वाली क्षेत्र पंचायत सदन की बैठक हेतु कोरम पूर्ण करने के लिए आवश्यक 28 सदस्यों की संख्या न होने पर विशेष बैठक स्थगित कर दिया और पंचायती राज अधिनियम में वर्णित प्राविधानों के अनुसार कारवाई करने की बात कही। बैठक न होने से क्षेत्र पंचायत प्रमुख व उनके समर्थकों ने राहत की सांस ली। क्षेत्र पंचायत सदस्य सुनीता देवी द्वारा यह आरोप लगाया गया कि मणिकांत दूबे सहित कई सदस्यों को प्रमुख द्वारा बंधक बना लिया गया है जिस पर पुलिस ने दूरभाष पर मणिकांत दूबे से बात किया पुलिस के अनुसार उन्होंने स्वेच्छा से बैठक में न आने की बात कही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *