इजरायल में भारतीय कम्युनिटी से बोले पीएम मोदी आने में लग गए 70 साल

अपने संबोधन की शुरुआत में पीएम मोदी ने इजरायली पीएम बेंजामिन नेतन्याहू को नमस्ते किया। उन्होंने कहा वे इस दोस्ती को मुकाम तक ले जाएंगे और कई क्षेत्रों में आपसी सहयोग से आगे बढेंगे। संबोधन के बाद पीएम मोदी, बेंजामिन नेतन्याहू से गले मिले। इस बीच पीएम मोदी ने दिल्ली-मुंबई-तेल अवीव उड़ान सेवा शुरु की जाने की घोषणा की |

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इजरायल के तेल अवीव के कंवेंशन सेंटर में करीब 4000 भारतीय को सम्बोधित किया

पीएम अपने की शुरुआत हिब्रू भाषा से की और कहा कि 70 वर्षो में पहली बार किसी भारतीय पीएम का इजरायल आना खुशी का मौका है। उन्होंने कहा कि इजरायल से मिलने में हमे 70 साल लग गए और दोनों देशों में सांस्कारिक और पारंपरिक संबंध है साथ ही येरूशलम 800 सालों से हमारे रिश्तों का प्रतीक है। दोनों देशों में कई सो सालों से गहरे संबंध है। वे आगे कहते हैं कि किसी भी देश का विकास भरोसे से होता है।
प्रधानमंत्री कहा कि इजराइल की भूमि वीर सपूतों की भूमि है और बोले कि पीएम बेंजामिन ने उन्हें भारतीय शहीद सैनिकों की तस्वीर भेंट की है। वहीं, सरकार की तीन सालों की उपलब्धियां गिनाते हुए कहते हैं कि देश में हाल ही में लागू हुए एक कर प्रणाली जीएसटी को गुड एंड सिंपल टैक्स बताया। जीएसटी को लेकर कहा कि इससे भारत का आर्थिक एकीकरण हुआ है|
हमने 500 से ज्यादा टैक्स को कम किया है और 2022 तक हर भारतीय को घर दिलाने का उद्देश्य सरकार का उद्देश्य है। साथ ही 24 घंटे में नागरिक के सरकारी काम को करने की दिलासा दी। वहीं, रिफॉर्म, पर्फॉर्म और ट्रांसफोर्म को सरकार का मंत्र बताया। 2022 तक भारत को ऊंचाई तक ले जाने की बात कही। उन्होंने कहा कि ‘हमने नियमों में सरलता लाने की कोशिश की है।

विदेशी निवेश को 26 से बढ़ाकर 49 प्रतिशत किया। निवेशकों के हित के लिए बदलाव किये जा रहे हैं। भारत में 65 फीसदी लोग 35 साल से नीचे हैं। पीएम मोदी कहते हैं कि ‘हम कोशल विकास कार्यक्रम को एक मंच पर लाए हैं और हर जिले में ‘कौशल विकास केंद्र’ खोल रहे हैं।’ आगे कहते हैं नौजवान देश के सपने भी जवान होते हैं और सरकार नौकरीपेशा लोगों को आर्थिक मदद दे रही है।

वहीं, महिलाओं की भागीदारी को विकास में सहायक बताया। अपने संबोधन में महिला को 26 हफ्ते की मातृत्व लीव देने की भी उपलब्धी गिनाई। वहीं, महिला के रात में काम करने की राज्य को एडवायजरी देने की बात कही। फिर पीएम मोदी ने कहा कि मेक इन इंडिया से सारी दुनिया हैरान है। भारत में सबसे ज्यादा विदेशी निवेश हो रहा है।

इसके बाद पीएम मोदी कहते हैं कि इजरायल के लोग भारत आकर अपनी किस्मत आजमा सकते हैं। इजरायल और भारत के बीच ‘पीआईओ कार्ड’ को लेकर भी पीएम मोदी बोले ‘दिल के रिश्ते कार्ड से खत्म नहीं होते।’ इजरायल के भारतीयों को ‘OCI कार्ड ‘ भी देने की बात कही और OCI कार्ड के नियमों को सरल करने पर भी हामी भरी और कहा कि इजरायल के भारतीयों को भारत आते रहना चाहिए। इजरायल के भारतीय मानवीय मूल्यों के साझेदार हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *